Scrollup

Press Release, 24th November 2017

आम आदमी पार्टी आगामी 26 नवम्बर, रविवार को अपना 5वां स्थापना दिवस मनाने जा रही है। पार्टी का यह कार्यक्रम दिल्ली के उसी रामलीला मैदान में आयोजित किया जाएगा जहां से जनलोकपाल के लिए आंदोलन शुरु हुआ था।

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय कार्यालय में आयोजित प्रैस कॉंफ्रेंस में बोलते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता एंव दिल्ली संयोजक गोपाल राय ने कहा कि ‘आम आदमी पार्टी आगामी 26 नवम्बर को अपना 5वां स्थापना दिवस मनाएगी जहां पूरे देशभर के 22 राज्यों से पार्टी के प्रतिनिधि इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए दिल्ली आएंगे। इस कार्यक्रम में पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ पार्टी के अबतक के सफ़र और राजनीतिक अनुभव पर चर्चा की जाएगी और भविष्य के लिए पार्टी के रोडमैप को लेकर भी बात की जाएगी। कार्यक्रम में राज्यों के प्रतिनिधियों को भी सम्बोधन का मौका मिलेगा और इसके अलावा कुछ अन्य बिंदु भी रहेंगे जिन पर इस सम्मेलन में चर्चा की जाएगी’

  1. इस देश के इतिहास में आम आदमी पार्टी एक ऐसी इकलौती पार्टी है जिसने 5 साल के छोटे से अंतराल में राष्ट्रीय परिदृश्य में अपना प्रभाव छोड़ा है और बहुत तेज़ी के साथ अपना विस्तार किया है। सम्मेलन में पार्टी अपने अब तक सफ़र पर चर्चा करेगी।
  2. देश में किसानों की स्थिति पर भी सम्मेलन में चर्चा की जाएगी क्योंकि वर्तमान की बीजेपी सरकार किसानों के साथ अन्याय कर रही है। मध्यप्रदेश में किसानों पर गोलीकांड के बाद आम आदमी पार्टी ने पूरे देश में किसानों के हक़ के लिए सम्मेलन किए हैं जिनपर विस्तार से चर्चा इस सम्मेलन में की जाएगी।
  3. देश की वर्तमान राजनीतिक, आर्थिक और सामाजिक परिस्थितियों पर पार्टी के इस सम्मेलन में चर्चा की जाएगी।
  4. आम आदमी पार्टी ने दिल्ली सरकार में रहते हुए जो जनहित के काम दिल्ली की जनता के लिए किए हैं उनपर भी चर्चा की जाएगी और देशभर के कार्यकर्ताओं को उनसे अवगत कराया जाएगा।
  5. जनलोकपाल बिल को लेकर भी कार्यकर्ताओं के साथ चर्चा की जाएगी क्योंकि हमारी लड़ाई जनलोकपाल बिल को लेकर उसी रामलीला मैदान से शुरु हुई थी। जनलोकपाल बिल हमारी दिल्ली सरकार ने पास भी कर दिया है और उसके बाद दिल्ली विधानसभा से भी पास कर दिया गया था लेकिन केंद्र की बीजेपी सरकार ने उसे रोककर रखा है, इसके अलावा केंद्र सरकार भी केंद्रीय जनलोकपाल को लेकर पूरी तरह से निष्क्रिय है जिसके बारे में देशभर के कार्यकर्ताओं के साथ चर्चा की जाएगी।
When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

Ravi Brahmapuram

3 Comments

    • John Ferns

      AAP SHOULD MAKE THESE ISSUES “A NATIONAL ISSUES”
      (1) DEMONETISATION
      (2) EVM
      (3) FARMER
      (4) FISHERMEN
      (5) EDUCATION
      (6) HEALTH
      (7) WATER
      (8) ELECTRICITY

      reply
    • John Ferns

      Congress is the main enemy of AAP. AAP should target Congress as well as BJP at the Same-Time, to get Congress voters to its fold. BJP has fixed voters, which they will vote BJP, no matter, if BJP keeps them hungry for days! It is their ideology, which make them vote to BJP, despite failure in Demonetisation, GST, Aadhar Card, EVM Manipulation, etc.

      reply
    • John Ferns

      *CONGRATULATIONS*

      reply

Leave a Comment