Scrollup

Press Release, AAP/12th October 2017

गुरुवार को लगातार दूसरे दिन आम आदमी पार्टी ने दिल्ली मेट्रो के बढ़े किराए के ख़िलाफ़ पूरी दिल्ली में किराया सत्याग्रह’ के तहत प्रदर्शन किया। आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के अलग-अलग मेट्रो स्टेशन पर विरोध प्रदर्शन किया और मेट्रो यात्रियों से बात की। इस कड़ी में पार्टी के वरिष्ठ नेता एंव दिल्ली संयोजक गोपाल राय के साथ दिल्ली सरकार के मंत्री इमरान हुसैन ने भी ITO मेट्रो स्टेशन पर हुए विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया।

विरोध प्रदर्शन में पार्टी कार्यकर्ताओं ने अपने हाथ में बैनर लिए थे जिनमें बढ़े किराए से दिल्लीवासियों को हो रही दिक्कतों को बताया गया। पार्टी कार्यकर्ताओं ने केंद्र की भाजपा सरकार के ख़िलाफ़ जमकर नारे लगाए और मेट्रो किराया बढ़ोतरी के पीछे मोदी सरकार की खराब मंशा को ज़िम्मेदार ठहराया। मेट्रो किराय वृद्धि के ख़िलाफ़ 13 अक्तूबर शुक्रवार के दिन दोपहर 12 बजे आम आदमी पार्टी केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय का घेराव करेगी, प्रदर्शन का नेतृत्व आम आदमी पार्टी के दिल्ली संयोजक गोपाल राय करेंगे जिसमें पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ पार्टी विधायक एंव सभी पार्षद भी मौजूद रहेंगे।

आम आदमी पार्टी द्वारा आयोजित मेट्रो किराया सत्याग्रह’ के दूसरे दिन प्रदर्शन का नेतृत्व करते हुए पार्टी के दिल्ली संयोजक गोपाल राय ने कहा किबीजेपी शासित केंद्र सरकार की साज़िश का ही नतीजा है कि आज दिल्लीवासी दिल्ली मेट्रो में पहले से दोगुना किराया देने को मजबूर हैं। आज की तारीख़ में दिल्ली मेट्रो दिल्ली की लाइफ़लाइन बन चुकी है और लोगों की मजबूरी का फ़ायदा उठाते हुए केंद्र की भाजपा सरकार लोगों की जेब काटने पर तुली हुई है।

आम आदमी पार्टी और दिल्ली सरकार शुरु से ही मेट्रो किराए बढ़ोतरी का विरोध करती आई है और आज भी हम अपने इस स्टैंड पर कायम हैं। भाजपा शासित केंद्र सररकार के शहरी विकास मंत्रालय द्वारा दी गई नुकसान की थ्योरी के मुताबिक भी दिल्ली सरकार अपने हिस्से का फंड देने के लिए तैयार है लेकिन बावजूद इसके भाजपा सरकार अपनी ज़िद पर अड़ी है।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

Ravi Brahmapuram

1 Comment

    • John Ferns

      Any projects which have more than 50% objections must be Scrap, Because this Government is selected by this same people for the welfare of them and not to benefit any elected MP/MLA.

      reply

Leave a Comment






femdom-scat.com
femdom-mania.net